मुंबई. Housing.com के को-फाउंडर और सीईओ राहुल यादव ने दो महीने के अंदर दूसरी बार सीईओ पद छोड़ने की खबर टाइम्स ग्रुप के अखबारों में छपने के बाद अपने फेसबुक प्रोफाइल पर एक कवर फोटो लगाकर टाइम्स ग्रुप की चुटकी ली है.

राहुल यादव के फेसबुक प्रोफाइल पर लगाए गए फोटो में टाइम्स ग्रुप, ईटी नाऊ और मैजिक ब्रिक्स डॉट कॉम को तीन डायनासोर की तरह दिखाया गया है जो तीनों हाउसिंग डॉट कॉम की शक्ल में एक आदमी पर हमलावर मूड में हैं. मैजिक ब्रिक्स डॉट कॉम टाइम्स ग्रुप की कंपनी है और वही सेवा देती है जो हाउसिंग डॉट कॉम देती है.

टाइम्स ग्रुप को लेकर राहुल यादव हमेशा आक्रामक रहते हैं. कवर फोटो पर टाइम्स ग्रुप और ग्रुप की दो कंपनियों को डायनासोर दिखाने के बाद राहुल ने अपने हालिया इस्तीफे की खबर को शेयर करते हुए अपनी तरफ से लिखा कि- टाइम्स ग्रुप है तो आपको गर्लफ्रेंड की क्या जरूरत है. हालांकि टाइम्स ऑफ इंडिया की साइट पर छपी इस खबर का लिंक अब काम नहीं कर रहा है. कंपनी की दूसरी साइट पर ये खबर लगी है.

ई-कॉमर्स सेक्टर का अरविंद केजरीवाल माने जाने वाले राहुल यादव की उम्र महज 26 साल है. आईआईटी, मुंबई की पढ़ाई बीच में ही छोड़कर 12 दोस्तों के साथ राहुल ने 2012 में घर खरीदने-बेचने, किराए पर लेने-देने की सेवा के साथ हाउसिंग डॉट कॉम की शुरुआत की थी.

सोशल साइट्स पर ट्रेंड करते हैं राहुल यादव 

राहुल यादव की सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर भी काफी फैन फॉलोइंग है. जितने लोग राहुल के काम करने के तौर-तरीके की आलोचना करते हैं उससे ज्यादा लोग उनकी बेबाकी के कायल हैं. राहुल जब भी कुछ बोलते हैं या करते हैं तो फेसबुक और ट्विटर पर ट्रेंड करने लगते हैं.

इसी साल मई में राहुल यादव ने अपनी कंपनी के बोर्ड मेंबर पर बौद्धिक रूप से कमजोर होने का आरोप लगाते हुए सीईओ पद से इस्तीफा दे दिया जिसे बोर्ड ने नामंजूर कर दिया था. टाइम्स ग्रुप के प्रकाशन में अब ये खबर आई है कि राहुल यादव सीईओ पद छोड़ने के लिए राजी हो गए हैं.

मई महीने के इस्तीफा प्रकरण के बाद राहुल यादव ने कंपनी में अपने सारे शेयर कंपनी के 2251 कर्मचारियों को दे दिया था. राहुल यादव के पास कंपनी में करीब 5 फीसदी शेयर थे जिसका मूल्य करीब 150-200 करोड़ बैठता है.

राहुल यादव की तीर से घायल हुए हैं कई कॉरपोरेट

राहुल यादव की इमेज एक ऐसे कॉरपोरेट की बन रही है जो किसी के भी बारे में अपनी राय रखने में इस बात की परवाह नहीं करता कि उसका क्या मतलब निकाला जाएगा. अपने सारे शेयर कंपनी के कर्मचारियों को देने वक्त यादव ने कहा था कि अभी उनकी उम्र बस 26 साल है इसलिए कमाने के लिए उनके पास बहुत समय है.

ओला और जोमैटो के मालिकों को चुनौती

अपने सारे शेयर हाउसिंग डॉट कॉम के कर्मचारियों को देने के बाद राहुल यादव ने ओला कैब्स के भवीश अग्रवाल और जोमैटो के दीपिंदर गोयल से भी कम से कम अपने आधे शेयर अपने कर्मचारियों को देने की चुनौती दी थी. यादव ने इसे नॉमिनेशन के तौर पर पेश करते हुए कहा था कि ये दोनों भी ऐसा करें और आगे दूसरे लोगों को भी ऐसा करने के लिए नॉमिनेट करें.

इन्फोसिस सीईओ विशाल सिक्का की सोती तस्वीर फेसबुक पर डाली

राहुल यादव ने कुछ दिन पहले किसी एयरपोर्ट के लाउंज में सो रहे इ्न्फोसिस के सीईओ विशाल सिक्का की तस्वीर अपने फेसबुक पेज पर शेयर कर दी. यादव की नाराजगी ये थी कि सिक्का ने उनसे बात नहीं की. फेसबुक पर यादव ने लिखा भी था कि मैंने सिक्का से कुछ पूछा लेकिन सुने बिना उन्होंने कहा कि वो सोना चाहते हैं.

Infosys CEO Sikka . When I asked something he replied "I just want to sleep" without listening to the question 😀

Posted by Rahul Yadav on Thursday, June 4, 2015