जोशीमठ. उत्तराखंड में लगातार हो रही बारिश की वजह से केदारनाथ यात्रा रोक दी गई है. बताया जा रहा है कि सोनप्रयाग को केदारनाथ से जोड़ने वाला अस्थाई पुल बह गया है. उत्तराखंड सरकार ने अलर्ट जारी करते हुए केदारनाथ के साथ ही हेमकुंड सहिब यात्रा भी रोक दी है. यात्रियों को सोनप्रयाग और गौरी कुंड में रोका गया है. तेज बारिश की वजह से मंदाकिनी और अलकनंदा नदी उफान पर हैं. 

चमोली में जिला प्रशासन ने कहा कि बद्रीनाथ की ओर जा रहे 10,000 श्रद्धालु बारिश में फंस गए हैं और उन्हें रास्ते में रोक दिया गया.चमोली बारिश में सर्वाधिक प्रभावित क्षेत्र में से एक है. राज्य में कई स्थानों पर पिछले 20 घंटे से भारी बारिश हो रही है. अधिकारियों के मुताबिक, हेमकुंड साहिब (हेमकुंड में सिखों का तीर्थ स्थल) यात्रा को भी कुछ समय के लिए भारी बारिश और भूस्खलन के कारण रोक दिया गया है. भूस्खलन के कारण चमोली बद्रीनाथ राजमार्ग को बंद कर दिया गया है.