मुंबई. मुंबई के तट के करीब डूब रहे जिंदल कामाक्षी जहाज से भारतीय नौसेना ने 20 लोगों को बचा लिया है. कंटेनर से लदा ये जहाज़ गुजरात के मुंद्रा से कोच्चि जा रहा था, तभी इसके डूबने का खतरा पैदा हो गया था. इसके बाद कोस्टगार्ड के हेलिकॉप्टर और नौसेना के जहाज़ को वहां मदद के लिए भेजा गया. 

एक अधिकारी ने बताया कि मुंबई बंदरगाह से 40 नॉटिकल मील और वसाई तट से 25 नॉटिकल मील दूर ‘जिंदल कामाक्षी’ नाम के जहाज ने आधी रात के समय खतरे और सहायता के लिए संकेत भेजा था. जहाज में चालक दल के 20 सदस्य सवार थे. सूचना पाते ही एक सीकिंग हेलीकॉप्टर और एक सहायक जहाज को तुरंत घटनास्थल की ओर रवाना किया गया.

मुंबई और आसपास के क्षेत्र में खराब मौसम के बावजूद सोमवार सुबह 7.45 बजे हेलीकॉप्टर ने बचाव अभियान शुरू किया. जहाज के चालक दल को सुरक्षित निकालकर कोलाबा स्थित नौसेना शिविर आईएनएस शिकरा में ले आया.  नौसेना के एक प्रवक्ता ने बताया,  ‘समुद्र में काफी हलचल थी और दृश्यता मुश्किल से एक नॉटिकल मील ही थी.’ हेलीकॉप्टर ने पहले चालक दल के 19 सदस्यों को डूबते जहाज से सुरक्षित निकाला और उसके बाद जहाज के कप्तान को भी जहाज से सुरक्षित निकाल लिया गया.