नई दिल्ली. दिल्ली विश्वविद्यालय में सेंट स्टीफंस कॉलेज की एक छात्रा ने प्रोफेसर पर यौन शोषण का मामला दर्ज करवाया है. छात्रा प्रोफेसर के अंडर ही पीएचडी कर रही थी. छात्रा ने आरोप लगाया कि जब उसने कॉलेज प्रशासन को मामले की जानकारी दी गई तो प्राचार्य ने प्रोफेसर का बचाव करने की कोशिश की. पुलिस ने आरोपी प्रोफेसर के खिलाफ आईपीसी की धारा 354 और अन्य संबंधित धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की है. 

छात्रा कॉलेज के रसायनशास्त्र विभाग में सहायक प्रोफेसर सतीश कुमार की देखरेख में पीएचडी कर रही थी. पीड़िता ने अपनी शिकायत में यह आरोप भी लगाया कि कॉलेज प्राचार्य वाल्सन थंपू ने ‘आपराधिक तौर पर उसे धमकाया कि उसकी पीएचडी पूरी होने में देरी नहीं हो या कोई समस्या नहीं आए, इसके लिए कॉलेज में ही मामले को समाप्त करने की अपनी सहमति व्यक्त करते हुए उन्हें लिखित में आवेदन दे.’ हालांकि प्राथमिकी में थंपू का नाम नहीं है.