बाड़मेर : राजस्थान के बाड़मेर में रिश्तों को शर्मसार करने वाला एक ऐसा मामला सामने आया है जिसे सुन हर कोई दंग रह गया. यहां एक तांत्रिक के साथ युवती ने पहले अवैध संबंध बनाए और गर्भवती हो गई. रिश्ता तब और ज्यादा कलंकित हो गया जब युवती ने अपनी नवजात बेटी को कचरे के ढेर में फेंक दिया.
 
मामला छनाऊ के श्रीरामवाला गांव का है जहां छह दिन पहले पुलिस को कचरे के ढेर में एक नवजात मिला था. पुलिस ने जब छानबीन शुरू की तो पुलिस भी हैरान रह गई. दरअसल, गांव के एक झाड़-फूंक करने वाले तांत्रिक के यहां की एक 22 वर्षीय युवती से अवैध संबंध हो जाने से ऐसा हुआ. 
 
घर पर ही प्रसूति
अवैध संबंधों के कारण युवती गर्भवती हो गई. इसके बाद युवती की मां को उसके गर्भवती होने का पता चल गया और बेटी ने मां के सामने आरोपी तांत्रिक से अवैध संबंध होना स्वीकार भी कर लिया. बदनामी के डर से युवती की मां ने अपनी बेटी की घर पर ही प्रसूति करवा दी.
 
नवजात को फेंका
इसके बाद आरोपी तांत्रिक, युवती और युवती की मां तीनों ने बदनामी से बचने के लिए मिलकर नवजात को ठिकाने लगाने के लिए झाड़ियों में कचरे के ढेर में फेंक दिया. इसके बाद मुखबीर की सूचना पर पुलिस ने दबिश देकर आरोपी युवती और युवती की मां से पूछताछ की तो पूरा सच सामने आ गया.
 
युवती का कहना था कि उसने मां के इलाज के लिए तांत्रिक से संबंध बनाए थे. फिलहाल पुलिस ने युवती, युवती की मां और तांत्रिक को गिरफ्तार कर लिया गया है और नवजात को जोधपुर के शिशुगृह में रखा गया है.