नई दिल्ली. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बीजेपी के सीनियर लीडर लालकृष्ण आडवाणी के इमरजेंसी वाले बयान का समर्थन किया है. केजरीवाल ने ट्विटर पर लिखा है, आडवाणी जी सही है. इमरजेंसी के हालात अभी भी बने हुए हैं. क्या दिल्ली पहला निशाना है ?

Advani ji is correct in saying that emergency can’t be ruled out. Is Delhi their first experiment?

— Arvind Kejriwal (@ArvindKejriwal) June 18, 2015

बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी ने इंडियन एक्सप्रेस से इमरजेंसी के दिनों के बारे में बात की है. इंदिरा गांधी की इमरजेंसी के दिनों में जेल जा चुके आडवाणी ने कहा है कि आज की राजनीतिक व्यवस्था में इमरजेंसी की आशंका है. उन्होंने कहा है कि उन्हें विश्वास नहीं कि इमरजेंसी फिर से थोपी नहीं जा सकती. नागरिक स्वतंत्रता फिर से छिनी नहीं जा सकती.
 
इंडियन एक्सप्रेस को दिए इंटरव्यू में आडवाणी ने कहा है, ‘राजनीतिक व्यवस्था में आज भी इमरजेंसी की आशंका है. 2015 के भारत के संविधान, कानून में ऐसे कवच नहीं हैं जो इमरजेंसी को रोक सके. इमरजेंसी के बाद ऐसा कुछ नहीं किया गया जिससे भरोसा हो कि नागरिक स्वतंत्रता फिर से नष्ट या निलंबित नहीं की जाएगी.’