नई दिल्ली : इन खबर ने आज ही आपको नोटबंदी के बैड इफेक्ट के बारे में बताया था. जहां नोटबंदी के कारण उत्तर प्रदेश के बरेली की एक महिला को अपनी इज्जत गंवानी पड़ी थी, उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म हुआ था. अब हम आपको बताने जा रहे हैं नोटबंदी के गुड इफेक्ट के बारें में. जी हां राजस्थान के अलवर में एक 21 साल की लड़की सिर्फ नोटबंदी के चलते बिकने से बच गई. 
 
मामला राजस्थान के अलवर का है. जहां लड़की के भाई ने उसका सौदा एक एजेंट के साथ 20 लाख में कर दिया था. लेकिन नोटबंदी के कारण एजेंट रकम नहीं जुटा पाया, जिसके कारण लड़की बिकने से बच गई.
 
खबर के अनुसार अलवर की रहने वाली 21 साल की एक महिला का भाई उसे नीलाम कर रहा था. महिला के भाई ने अपने चचेरे भाई के साथ मिलकर अपनी बहन का सौदा तस्करी करने वाले एक दलाल के साथ कर दिया था. डील हुई थी कि इसके बदले उन्हें 20 लाख रुपए कैश में दिए जाएंगे. लेकिन एजेंट कैश नहीं अरेंज कर पाया. एजेंट ने कैश के बदले चेक से पेमेंट करने का ऑफर दिया, जिससे दोनों में बहस शुरू हो गई.
 
अलवर के एडिशनल एसपी पारस जैन ने बताया कि महिला के भाई और एजेंट के बीच हुई बहस से मौका पाकर महिला वहां से भाग निकली. वह भागकर थाने आ गई और पुलिस की मदद मांगी. बाद में पीड़िता को महिला कॉन्स्टेबल के साथ महिला पुलिस स्टेशन भेजा गया और बयान दर्ज कर लिया गया है. मामले की जांच की जा रही है.