चंड़ीगढ: केंद्रशासित प्रदेश चंड़ीगढ देश का पहला कैशलेस शहर बनेगा. चंडीगढ़ प्रशासन के एक अधिकारी ने कहा है कि इसके लिए अभियान शुरु कर दिया गया है. इस खूबसूरत शहर को 10 दिसंबर तक कैशलेस सिटी बनाने का लक्ष्य है और इसके लिए सभी तैयारियां की जा रही हैं.
 
शहर के स्कूलों में भी अब फीस डिजिटल तरीके से ही जमा की जाएगी. यह व्यवस्था आ जाने के बाद शहर में  कैश की बजाय नेट बैंकिंग से ही पेमेंट होगा. स्वाइप मशीन, क्रेटिट कार्ड, डेबिट कार्ड और पेटीएम से भी पेमेंट होगा.
 
कैशलेस बनाने पर चर्चा के लिए अधिकारियों की बैठक भी हुई और बैंकों से कैशलेस सिटी बनाने का प्रस्ताव भी मांगा गया. बता दें कि चंडीगढ में 100 प्रतिशत जनसंख्या के पास आधार कार्ड है. डीजिटल माध्यम से पेमेंट शुरु हो जाने के बाद नकदी स्वीकार नहीं की जाएगी.  गोवा को देश का पहला कैशलेस राज्य बनाने की कोशिश की जा रही है.