लखनऊ : मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने लखनऊ मेट्रो के ट्रायल रन को हरी झंडी दिखाई. इस मौके पर समाजवादी पार्टी सुप्रीमो मुलायम सिंह भी मौजूद थे. 
 
ट्रांसपोर्ट नगर स्थित डिपो में हुआ. तीन महीने तक लखनऊ मेट्रो का ट्रायल चलेगा. इसके बाद ट्रांसपोर्ट नगर से चारबाग के बीच के रुट को लोगों के लिए अगले साल के मार्च महीने के अंत तक खोला जाएगा.
 
तैयार होने में लगा सबसे कम समय
लखनऊ मेट्रो के चीफ एडवाइजर ई श्रीधरन के मुताबिक लखनऊ मेट्रो 2 साल 2 महीने में बनकर तैयार हुई है. वहीं दिल्ली मेट्रो को शुरू होने में 7 साल लगा दिए. उनका कहना है कि लखनऊ मेट्रो को तैयार होने में सबसे कम समय लगा है.
 
रिपोर्ट्स के मुताबिक 21 मेट्रो स्टेशन के साथ मेट्रो का उत्तर-दक्षिण कॉरीडोर 23 किलोमीटर लंबा है. अनुमान के अनुसार मेट्रो की अनुमानित लागत 6800 करोड रुपये है.