अलीगढ़ : हमारे आधुनिक होते देश में एक पंचायत ने लड़कियों के जींस, टी-शर्ट पहनने और मोबाइल रखने को शराब और जुए को एक ही तरह के गलत काम माना है. इन दोनों पर ही रोक लगाते हुए पंचायत ने लड़कियों को फरमान सुना दिया है. 
 
अलीगढ़ के फतेहपुरी गांव की महपंचायत ने लड़कियों के मोबाइल फोन इस्तेमाल करने और जीन्स तथा टी-शर्ट पहनने पर रोक लगा दी है. अगर लड़की इस नियम का उल्लंघन करती है, तो उसे उसी समय सजा सुनाई जाएगी. इसी पंचायत ने शराब और जुए पर भी जुर्माना लगाया है. 
 
जींस पहनना परंपरा के खिलाफ
महापंचायत के अध्यक्ष नेकराम चौधरी का कहना है कि पंचायत में 200 लोग शामिल थे और फैसला सबकी सहमति से लिया गया है. उनका मानना है कि लड़कियों का मोबाइल फोन इस्तेमाल करना और जीन्स, टी-शर्ट पहनना भारतीय परंपरा के खिलाफ है. 
 
टाइम्स आॅफ इंडिया की इस खबर के मुताबिक गांव के प्रधान भगवती प्रसाद ने बताया कि गांव के अंदर 15 वॉर्ड और 2000 वोटर हैं. इन सभी ने फैसले का समर्थन किया है. उन्होंने बताया कि शराब, जुए और सट्टे पर भी जुर्माना लगाने का फैसला किया गया है. अगर कोई व्यक्ति जुआ खेलते हुए पकड़ा गया तो उसे 500 रुपए का जुर्माना देना होगा और जुए की पूरी रकम जब्त कर ली जाएगी. 
 
पहले भी आया था फरमान
इसके अलावा जुआ खिलवाने पर 3,100 रुपए का फाइन लगाया जाएगा. पंचायत शराब बेचने वाले पर 5000 रुपए और शराब खरीदने वाले पर 500 रुपए का जुर्माना लगाएगी. अगर कोई व्यक्ति पैसे नहीं दे पाता है, तो उससे नाला साफ करवाया जाएगा. 
 
बता दें कि इसी साल की शुरुआत में अलीगढ़ के ही गोंडा ब्लॉक में बसाउली गांव की पंचायत ने लड़कियों के मोबाइल फोन इस्तेमाल करने पर रोक लगाई थी. गांव के एक बुर्जुग का कहना था कि जो लड़की मोबाइल इस्तेमाल करती पकड़ी गई, तो उसे 8 दिन तक शारीरिक दंड दिया जाएगा.