जांजगीर चांपा. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने छत्तीसगढ़ प्रवास के दूसरे दिन आज सुबह राज्य के जांजगीर चांपा जिले में साराडीह गांव से 10 किलोमीटर लंबी पदयात्रा की शुरूआत की. इस दौरान उनके साथ राज्य के वरिष्ठ कांग्रेस नेता, कार्यकर्ता और अनेक ग्रामीण साथ हैं. पदयात्रा जिले के दभरा गांव में खत्म होगी जहां राहुल गांधी एक सभा को संबोधित करेंगे.

छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी महामंत्री शैलेश नितिन त्रिवेदी ने बताया कि राहुल अपनी पदयात्रा के दौरान तीन स्थानों पर रूकेंगे तथा इस दौरान वह क्षेत्र में लगने वाले विद्युत गृहों के कारण अपनी जमीन खोने वाले किसानों से मिलेंगे. इसके साथ ही वह पोलावरम बांध और कन्हार बांध के प्रभावित ग्रामीणों से भी मुलाकात करेंगे और नया रायपुर के कारण प्रभावित किसानों की समस्याएं भी सुनेंगे.

त्रिवेदी ने बताया कि पोलावरम बांध राज्य के दक्षिण में स्थित सुकमा जिले की सीमा और सीमांध्र के पश्चिमी गोदावरी जिले में बनाया जा रहा है. वहीं कन्हार बांध उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले में बनाने की तैयारी चल रही है. इन दोनों बांध के बनने से राज्य के बहुत से ग्रामीण और किसान प्रभावित होंगे. उन्होंने कहा कि राज्य का जांजगीर चांपा जिला राज्य का सबसे उपजाउ जमीन वाला जिला है. यहां के किसान दो फसल लेते हैं लेकिन राज्य सरकार ने इसके बावजूद यहां 40 विद्युत गृहों की स्थापना की मंजूरी दी है. राहुल दो दिन के छत्तीसगढ़ प्रवास पर सोमवार को कोरबा जिला पहुंचे तथा वहां उन्होंने ग्रामीणों और किसानों से मुलाकात की। वह आज रायपुर भी आएंगे तथा यहां शंकर नगर क्षेत्र में नए कांग्रेस भवन की आधारशिला रखेंगे.

एजेंसी