नई दिल्ली. केंद्र सरकार किन्नरों को समाज की मुख्यधारा में लाने के उद्देश्य से संसद के आगामी सत्र में एक विधेयक लाने जा रही है. केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावर चन्द गहलोत के मुताबिक इसके लिए एक बिल लाया जाएगा. 

सरकार किन्नरों को भी अनुसूचित जाति, जनजाति, पिछडे़ वर्ग के लोगों की तरह शिक्षा और विकास में सुविधा देने पर विचार कर रही है. सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री गहलोत ने कहा है कि उनकी सरकार किन्नरों को समाज की मुख्य धारा में लाने के लिए अनेक कदम उठाएगी