धर्मशाला. राजधानी दिल्ली में इन दिनों स्मोग विकराल रुप धारण किे हुए है. इसके कारण लोगों को कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. दिल्लीवाले को स्मॉग के कारण आंखों में जलन, सांस लेने में दिक्कत जैसी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. दिल्ली में फैले स्मॉग के कारण यहां का पर्यटन भी प्रभावित हो रहा है.
 
आंकड़ों के अनुसार दिल्ली में फैले स्मॉग के कारण हिमाचल प्रदेश जाने वाले पर्यटकों की संख्या में अप्रत्याशित वृद्धि देखने को मिली है. दिल्ली के स्मॉग के कारण हिमाचल में टूरिस्टों की बहार आ गई है. दिल्ली में जानलेवा होती हवा के कारण लोगों ने कुछ दिनों के लिए राजधानी से किनारा कर लिया है. 
 
वहीं हिमाचल पहुंचे टूरिस्टों का कहना है दिल्ली में प्रदूषण काफी बढ़ चुका है जिसके चलते उन्होंने कुछ राहत पाने के लिए हिमाचल प्रदेश आएं हैं. कुछ टूरिस्ट ऐसे भी हैं जिन्होंने हाल-फिलहाल में दिल्ली आने का अपना प्रोगाम प्रदूषण के चलते रद्द कर धर्मशाला का रूख कर लिया है.  
 
दिल्ली में एक विदेशी महिला का कहना है कि वह पिछले सप्ताह दिल्ली आई थी लेकिन वहां के प्रदूषण के कारण उनके गले में खराश की समस्या पैदा हो गई है जिसके बाद उन्होंने धर्मशाला आने का फैसला किया है. 
 
आपको बता दें कि दिल्ली में पिछले दिनों प्रदूषण का स्तर सामान्य से न सिर्फ 17 गुना ज्यादा पाया गया बल्कि कई जगहों पर प्रदूषण मापने वाले यंत्र की क्षमता (999 माइक्रोग्राम) भी जवाब दे गई. सड़कों पर बढ़ती धुंध की वजह से सांस की तकलीफ, अस्थमा और एलर्जी के मरीजों की तादाद 15 प्रतिशत से बढ़कर 60 प्रतिशत हो गई.