मुंबई. मुंबई के स्वामी गगनगिरी महाराज के आश्रम में दीवाली के पहले शरद पूर्णिमा के मौके पर डेढ़ लाख दिये जलाकर विश्व शांति और मानव कल्याण को नया सन्देश दिया. मालाड पश्चिम के मनोरी में स्तिथ स्वामी गगनगिरी महाराज जी के आश्रम में शनिवार को शरदपूर्णिमा के मौके पर आयोजित ‘लक्ष लक्ष दिप महोत्सव’ के दौरान श्रद्धालुओं द्वरा डेढ़ लाख दिए जलाकर विश्व शांति और मानव कल्याण का आरास किया गया.
 
इस आश्रम में पिछले 16 साल हर साल दीवाली के पहले शरदपूर्णिमा के मौके पर डेढ़ लाख दिये जलाये जाते हैं. ‘लक्ष लक्ष दिप महोत्सव कार्यक्रम’ के दौरान महाराष्ट्र और गुजरात से लाखों की संख्या में श्रद्धालु उपस्थित होकर दिए जलाते है.
 
इस कार्यक्रम के मुख्या व्यस्थापक निशाद अमृतराव पाटणकर ने बताया की यह प्रचलन स्वामी गगनगिरी महाराज के समय से चला आ रहा है. हर साल बड़े ही धूम-धाम से गाजेबाजे के साथ दिए जलाए जाते हैं. अब तो यह कार्यक्रम लिम्का बुक ऑफ़ द वर्ड के जरिए दुनिया भर में मसहूर हो गया है.