मुंबई. महाराष्ट्र के पालघर जिला के नालासोपारा ईस्ट के धानिव बाग इलाके में सात अक्टूबर को दो मासूम बच्चों को तीन लोगों ने छोटी से गलती के लिए वो सजा दी, जिसे देख और सुन कर हर किसी को तालिबान की याद आ गई, जहां मामूली से मामूली बात पर तालिबानी जल्लाद मासूमों को भीड़ के सामने यातनाएं देकर सजा देते हैं . 
 
कुछ ऐसा ही नजारा 7 अक्टूबर को धानिव बाग़ के भागवत टेकरी इलाके में तीन जल्लादों ने दो मासूम को कुछ उसी तरह पानी पिला पिला कर जुल्म किया घटना के बाद जब पीड़ित और उनके घर वालो ने घटना की जानकारी वालीव पुलिस को दी तो पुलिस ने भी अपना असली जल्लाद का रूप दिखा कर मासूमो की फिरयाद नहीं सुनी और नहीं खून से लहू लुहान मासूम बच्चे ही उन्हें दिखाई दिया. 
 
पुलिस ने महज खाना पूर्ति करते हुए आरोपियों के खिलाफ एनसी लिखी मगर जब आज घटना के दिन का मोबाईल क्लिप मीडीया को मिला और उन्होंने इस दर्दनाक दृश्य को देखा और खबर चलाई तब जाकर वालीव पुलिस के आला अधिकारियों की नींद खुली और उन्होंने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार किया और जांच कर कार्यवाई की बात कही.
 
पुलिस निरीक्षक महेश पाटिल ने कहा कि इस घटना में जिन भी अधिकारियो ने या कर्मचारियों ने कोताही बरती होगी. उनके खिलाफ डिपार्टमेंटल जांच कर कार्यवाई की जाएगी.