रायपुर. विजयादशमी पर ग्राम पंचायत पटना में मंगलवार रात को आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम में स्थानीय विधायक और श्रम मंत्री के बेटे ने फूहड़ गानों के बीच प्राइवेट गनमैन द्वारा फायर किए जाने का मामला अब तूल पकड़ लिया है. मामले को गंभीरता से लेते हुए आईजी हिमांशु गुप्ता के फटकार के बाद बैंकुठपुर एसपी ने पटना टीआई को लाइन अटैच कर दिया है.
 
दशहरा उत्सव के दौरान पटना में श्रम मंत्री के बेटे के मौजूदगी में आयोजित में पटना टीआई आरपी साहू द्वारा मंच पर डांसरों पर नोट उड़ाये जाने का वीडियो वायरल होने के बाद आईजी हिमांशु गुप्ता ने जमकर टीआई को फटकार लगाई और एसपी सुजीत कुमार को कार्रवाई करने के निर्देश दिए.
 
आईजी के आदेश पर एसपी सुजीत कुमार ने पटना टीआई आरपी साहू को लाइन अटैच कर दिया और उनके जगह पर चिरमिरी शिवेंद्र सिंह राजपूत को थाने का प्रभार सौप दिया है. वहीं अभी भी मामले में पुलिस को फायर करने वाले के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए शिकायत का इंतजार है.
 
कई के बदले प्रभार
मामले के बाद कोरिया में कई पुलिस अधिकारियों को इधर-उधर गया. चिरमिरी टीआई शिवेंद्र सिंह राजपूत को पटना का प्रभार देने के बाद उनके स्थान पर सोनहत के थाना प्रभारी एएस खान को चिरमिरी का प्रभार दिया गया है. इसके साथ लाइन से आरएस पैकरा को सोनहत भेजा गया है.
 
यह था मामला
ग्राम पटना में दुर्गोत्सव समिति ने विजयादशमी पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया था. इस दौरान माता की प्रतिमा का विसर्जन और रावण दहन के बाद भक्तिगीत, रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति दी गई. इस दौरान स्थानीय विधायक व श्रममंत्री भईयालाल राजवाड़े के पुत्र विजय राजवाड़े लाव लश्कर के साथ कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे और भक्ति, सांस्कृति प्रस्तुति का लुफ्त उठा रहे थे. कार्यक्रम के मंच पर जैसे-जैसे रात ढलती गई और कलाकार फुहड़ गानों की प्रस्तुति देने लगे.