नोएड़ा . उत्तर प्रदेश सरकार ने IAS अधिकारी रमारमण को नोएड़ा अथॉरिटी का नया चेयरमैन बनाया है. कल शनिवार को हुए प्रशासनिक बदलाव में उनकी वापसी हुई साथ ही 11 IAS अफसरों के तबादले भी किये गए. रमारमण को औघोगिक विकास के प्रमुख सचिव की भी जिम्मेदारी दी गई है.

इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 

रमारमण की नियुक्ति से नोएडा में लगभग 10 हजार करोड़ के प्रॉजेक्टस को रफ्तार मिल सकती है. बता दें कि नोएडा मे इस समय लगभग 10 हजार करोड़ के प्रॉजेक्ट्स पर काम चल रहा है.

हाईकोर्ट से क्लिन चिट मिलने के बाद लौटे

रमारमण की वापसी हाईकोर्ट से क्लिन चिट मिलने के ठीक 100 दिन बाद हुई है. हाईकोर्ट के आदेश के बाद उन्हें नोएड़ा के सीईयो पद से शासन ने हटा दिया था. उसके बाद उनकी पोस्टिंग कहीं नहीं की गई थी. अगले साल युपी में विधानसभा चुनाव होने हैं. चुनाव को देखते हुए समाजवादी पार्टी सरकार कई प्रॉजेक्ट्स को समय पर पूरा करना चाहती है, जिनमें कई अखिलेश यादव के ड्रीम प्रोजेक्ट हैं. रमारमण के आने से उम्मीद की जा रही है कि वे सारे प्रोजेक्टस तय समय पर पूरे हो जाएंगे. उनके आने से कई काम भी तेज होंगे और नोएड़ा के अधिकारियों को भी काम करने में आसानी होगी.