नई दिल्ली. पूरी दुनिया में महिलाओं के शोषण की पुरजोर निंदा की जाती है और उन्हें एक सुरक्षित और खुला वातावरण देने की बात कही जाती है. लेकिन, नाइजीरिया में ऐसी जगहें हैं जहां महिलाओं के साथ बेहद अमानवीय व्यवहार हो रहा है.
 
नाइजीरिया में 13 से 18 साल की लड़कियों को जबरदस्ती गर्भवती कर बच्चे पैदा कराए जाते हैं. फिर इन बच्चों को ऐसे लोगों को बेचा जाता है, जिनके कोई बच्चे नहीं हैं. यहां लड़कियों के स्वास्थ्य और भावनाओं को ध्यान रखे बिना एक पॉल्ट्री फार्म की तरह बच्चे पैदा किए जाते हैं. 
 
लड़कियों के इस शोषण को बेबी फार्मिंग कहा जाता है. इंसान और जानवर के साथ एक ही तरह का व्यवहार किया जाता है. लड़कियों की इच्छा का कोई महत्व नहीं होता. उन्हें बंदूकों से डराकर गर्भवती करके बच्चे पैदा कराए जाते हैं. 
 
गर्भपात कराना गैरकानूनी 
ये बेबी फार्म छुपकर अस्पतालों और अनाथालयों में चलाए जाते हैं. यहां जबरन रखी जाने वाली लड़कियां अनाथ या गरीब घरों से होती हैं. इनमें से कई मजबूरी के कारण गर्भधारण के लिए तैयार हो जाती है, तो कई को डराकर मनाया जाता है. 
 
इन लड़कियोंं के लिए नाइजीरिया का कानून भी मुसीबत बन जाता है. वे गर्भपात नहीं करा सकतीं क्योंकि नाइजीरिया में ऐसा करना गैरकानूनी है. यह अवैध बेबी फार्म इस कानून का फायदा उठाते हैं.