नई दिल्ली. केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली ने आज राज्यों के वित्तमंत्रियों के साथ GST की बैठक के बाद संवाददाताओं को संबोधित करते हुए कहा कि कमजोर मॉनसून को लेकर देश को चिंता करने की कोई ज़रुरत नहीं है. वित्तमंत्री अरुण जेटली ने कहा कि देश में खाद्यान्न का पर्याप्त भंडार है और ऐसे में देशवासियों को घबराना नहीं चाहिए. उन्होंने आश्वस्त किया कि वित्त मंत्रालय व सरकार ने अपनी तैयारी कर रखी है. 

जेटली ने कहा कि हम कीमतें बढने नहीं देंगे और लोगों को उचित दर पर आवश्यक खाद्य पदार्थ उपलब्ध होंगे. अरुण जेटली ने कहा कि पिछले साल इस बार से ज्यादा कमजोर मॉनसून का अनुमान लगाया गया था, उसके बावजूद हमने स्थितियों को नियंत्रित किया था. अरुण जेटली ने कहा कि अभी जो अनुमान आया है, उसके अनुसार देश के उत्तर पश्चिम इलाकों में कम बारिश हो सकती है, लेकिन वे इलाके पंजाब, हरियाणा व पश्चिमी उत्तरप्रदेश के हैं, जहां पर्याप्त सिंचाई व्यवस्था है. ऐसे में खाद्यान्न उत्पादन पर कोई बहुत बडा असर नहीं पडेगा. उन्होंने कहा कि दक्षिण भारत, मध्य व उत्तरपूर्वी भारत में सामान्य मॉनसून का अनुमान है. उन्होंने कहा कि इस बार की स्थिति पिछले साल से कहीं बेहतर है. उन्होंने यह स्वीकार किया कि मॉनसून का असर अर्थव्यवस्था पर पडेगा. वित्तमंत्री ने कहा कि कमजोर मॉनसून के हवाले से महंगाई बढने का अनुमान लगाना जल्दबाजी है. 

IANS