वेरावल. पवित्र ज्योतिर्लिग सोमनाथ में अब सिर्फ हिंदुओं को ही प्रवेश मिलेगा. गैर-हिंदुओं को मंदिर में प्रवेश के लिए मंदिर ट्रस्ट के ऑफिस से विशेष अनुमति लेनी होगी। यह सूचना मंदिर परिसर में लगे बोर्ड पर लिखी गई है.

सूचना गुजराती में लिखी है, जिसका हिंदी अनुवाद यह है-
श्री सोमनाथ ज्योतिर्लिग तीर्थधाम हिंदुओं का तीर्थधाम है. इस पवित्र तीर्थधाम में प्रवेश के लिए गैर-हिंदुओं को जनरल मैनेजर ऑफिस से संपर्क कर प्रवेश की अनुमति लेनी होगी. अनुमति मिलने के बाद ही मंदिर में प्रवेश मिलेगा.
श्री सोमनाथ ट्रस्ट
प्रभास पाटण

ट्रस्‍ट की आधिकारिक प्रतिक्रिया नहीं
इस बारे में जब ट्रस्ट के अधिकारियों से बात की गई तो उन्होंने नाम न बताने की शर्त पर बताया कि सोमनाथ हिंदुओं का पवित्र मंदिर है. इसीलिए यहां सिर्फ उन्‍हें ही प्रवेश दिया जाना चाहिए. इसी बात को ध्यान में रखते हुए ट्रस्ट द्वारा यह फैसला लिया गया है. हां, गैर-हिंदू भी मंदिर में प्रवेश कर सकते हैं, लेकिन उन्हें इसके लिए अनुमति लेनी होगी. वहीं, विशेष मौकों जैसे शिवरात्रि या अन्य त्योहारों पर मंदिर में प्रवेश के लिए सिर्फ हिंदुओं को ही प्राथमिकता दी जाएगी.