एक रिसर्च के अनुसार फेसबुक पर दिन के दो कमेंट आपके जीवन में कई खुशियां और सकारात्मक बदलाव लाने की ताकत रखते हैं. रिसर्च में यह भी खुलासा हुआ है कि लाइक्स आदि का ऐसा असर  देखने को नहीं मिल पाता है. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
दरअसल  ह्यूमन कंप्यूटर इंटरेक्शन इंस्टिट्यूट के प्रोफेसर और रिसर्चर रोबर्ट क्राउट ने अपनी एक रिसर्च में पाया है कि ‘जिन्हें आप पसंद करते हैं फेसबुक पर उनसे बात करने के बाद आपको उसी तरह अच्छा महसूस होता है जैसे आमने सामने बात करने पर होता है.’ इस रिसर्च में यह देखने में आया कि दिन के दो और महीने के 60 कमेंट्स किसी के भी जीवन में सकारात्मक बदलाव ला सकते हैं. 
 
यह शोध 91 देशों के 1,910 फेसबुक यूज़र्स पर किया गया. जिसे कि जर्नल ऑफ़ कंप्यूटर मेडिएटेड कम्युनिकेशन में प्रकाशित किया गया है. इस रिसर्च में पाया गया कि फेसबुक पर जान पहचान और पसंद के लोगों के साथ समय बिताने और उनसे कमेंट प्राप्त होने पर जिंदगी में संतुष्टि वाला भाव उत्पन्न होता है. इससे ज़िन्दगी की गुणवत्ता बढ़ती है. 
 
फेसबुक पर यह एक या दो पंक्तियों के कमेंट के तौर पर भी हो सकता है. यहां गौरतलब यह है कि यह रिसर्च इस से पहले हुई तमाम तरह की रिसर्च से उलट है जिनमें  सोशल मीडिया को डिप्रेशन जैसी बिमारियों को वजह बताया है.