नई दिल्ली. रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने अपनी मौद्रिक समीक्षा नीति पेश कर दी है. आरबीआई ने ब्याज दरों में 0.25 की कटौती की है यानी वह रेट जिस पर बैंक, आरबीआई से लोन लेती और लोगों को देती है. पहले यह 7.50% थी जो अब 7.25% हो गई है. 

इससे आम लोगों के लिए ईएमआई सस्ती हो सकती है. आरबीआई ने सीआरआर (कैश रिजर्व रेसियो) को स्थिर रखा है, जो चार फीसदी पर ही बरकरार रहेगा. वहीं महंगाई दर का अनुमान 5.8 फीसदी से बढ़ाकर आरबीआई ने 6 फीसदी कर दिया है. रिजर्व बैंक ने रेपो रेट को कम करते हुए तीसरी बार यह बदलाव किया है. इससे पहले आरबीई ने जनवरी व मार्च में ब्याज दरों में कटौती की थी लेकिन अप्रैल में पेश मौद्रिक नीति समीक्षा में दरें स्थिर रखी थी.