पटियाला.  पटियाला में एक नेशनल हैंडबॉल खिलाड़ी के द्वारा फांसी लगाकर खुदकुशी का मामला सामने आया है. बताया जा रहा है कि मृतका अपने कोच की छेड़छा़ड़ से परेशान थी. पूजा ने सुसाइड नोट में आप बीती सुनाई है. जिसे सुनकर आप भी रो देंगे.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
पूजा ने सुसाइड लेटर में देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इंसाफ की गुहार लगाई है. अपने परिवार की मदद का भरोसा मांगा है और उस शख्स का नाम लिखा है जिसकी वजह से उसने ये कदम उठाया.
 
नेशनल हैंडबॉल प्लेयर पूजा का आरोप है कि उसके कोच गुरशरण सिंह गिल ने उसे टीम जानबूझकर नहीं रखा, क्योंकि वो गरीब परिवार से है. इस खत में पूजा ने अपने कोच पर ज्यादती करने का आरोप लगाया है. साथ ही ये लिखा है कि पिछले साल हमलोगों को हॉस्टल दिए गए थे. लेकिन इस साल हमारी टीम नेशनल टूर्नामेंट नहीं जीती इसकी सजा देते हुए हमें हॉस्टल नहीं दिए गए.
 
इस खत के मुताबिक कोच सिर्फ अमीर घर के बच्चों को ही टीम में रखते हैं, उन्हें ही हॉस्टल और दूसरी सुविधाएं मिलती हैं. उसने लिखा कि मुझे और पुष्पा को कॉलेज में तो एडमिशन दे दिया मगर हॉस्टल में नहीं दिया.