नई दिल्ली. आज यानी 21 अगस्त 2016 को पूरे देश में संकष्टी गणेश चतुर्थी धूम-धाम से मनाई जाएगी. यह चतुर्थी पूरी तरह से गण को ईश भगवान गणेश को समर्पित होता है. इस विशेष अवसर पर हम आपको कुछ ऐसे महाउपाय बताएंगे जिनसे आपकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण हो सकती हैं.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
प्रत्येक शुभ काम से गणेश जी का पूजन किया जाता है. गणेश जी के शरीर में हाथी का सिर बुद्धि, कर्म और शक्ति का प्रतीक है.
 
चंद्रोदय रात में 9:23 बजे (नई दिल्ली)
चतुर्थी तिथि प्रारंभ 21 अगस्त सुबह 08:17 बजे
चतुर्थी तिथि समाप्त 22 अगस्त सुबह 05:43 बजे
 
बुद्धि के लिए- गणेश जी को 4 नारियल की माला चढ़ायें.
 
प्रतियोगिता में सफलता- कच्चे सूत में 7 गांठ लगाकर जय गणेश काटो कलेश कहते हुए गणेशजी को चढ़ायें, उसके बाद धागा अपने पर्स में रखें. ऐसा करने से परीक्षा या इंटरव्यू में सफलता मिलेगी.
 
हाजिर जवाब बनने के लिए- अगर आप बोलने में संकोच करते हैं, बोलने में हकलाते हैं तो गणपति को केले की माला चढ़ायें.
 
याददाश्त बढ़ाने के लिए- याददाश्त बढ़ाने के लिए मुरमुरे से हवन करें और इस मंत्र का पाठ करें.
 
महाविघ्नात्प्रमुच्यते।। महादोषात्प्रमुच्यते।। महापापात् प्रमुच्यते।
स सर्व विद्भवति स सर्वविद्भवति। य एवं वेद इत्युपनिषद।।
 
क्रोध शांति- अगर आपको बात-बात पर गुस्सा आता है तो उसे दूर करने के लिए लंबोदर गणपति को लाल रंग का कोई भी फूल चढ़ायें।