नई दिल्ली.  गूगल ने डुओ नाम से विडियो कॉलिंग एप्लिकेशन लॉन्च कर दी है. इस एप्लिकेशन का इंतज़ार लोगों को तभी से था जब गूगल ने अपने आई/ओ डेवलपर कॉन्फ्रेंस में इसकी घोषणा की थी. बताया जा रहा है कि इसे एप्पल के फेसटाइम और स्काइप जैसी वीडियो कॉलिंग ऐप्लिकेशन से सीधे मुकाबले के लिए उतारा गया है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
गूगल की माने तो डुओ नाम की इस ऐप्लिकेशन को वीडियो कॉलिंग की जटिलताओं को सुलझाने के लिए लाया गया है. गूगल के ग्रुप प्रोडक्ट मैनेजर के अनुसार ‘डुओ विडियो कॉलिंग के अनुभव को बेहद सरल बना देगी. भारत जैसे देशों में जहां नेटवर्क से सम्बंधित परेशानियां वीडियो कलिंग के अनुभव को मुश्किलों भरा बना देती है. वही यह एप्प इन सभी बातों को ध्यान में रख कर काम करेगी और वीडियो कॉलिंग का एक स्मूथ अनुभव लोगों को देगी.’
 
आज से आईओएस और एंड्राइड डिवाइज के लिए इस ऐप्लिकेशन को लॉन्च कर दिया गया है. कुछ दिनों में सभी देशों में यह ऐप्लिकेशन उपलब्ध होगी. 
 
यह होंगे खास फीचर्स
 
प्राइवेसी की सुरक्षा के लिए इस पर होने वाली सभी कॉल्स एन्ड तो एन्ड इंस्क्रिप्टेड होंगी. इसके अलावा इसमें गूगल ने नॉक-नॉक फीचर जोड़ा है. जिसकी मदद से यूजर सामने वाले के काल पर जुड़ने से पहले ही कॉल करने वाले को देख पायेगा. 
 
गूगल के अनुसार डुओ को स्लो नेटवर्क पर काम करने के लिए डिज़ाइन किया गया है. ऐसे में अगर किसी यूजर का नेट स्लो है तो डुओ एप्लिकेश खुद रेसोलुशन को हल्का कर वीडियो काल जारी रखेगा. 
 
इतना ही नहीं विडियो कॉल को जारी रखने के लिए यह ऐप्लिकेशन जरुरत के अनुसार खुद ब खुद वाई-फाई और सेलुलर डाटा को इस्तमाल में लेती रहेगी.