नई दिल्ली. 32 साल पहले पाकिस्तान ने हिन्दुस्तान के खिलाफ एक बहुत बड़ी साजिश की थी लेकिन भारत के शूरवीरों ने दुश्मन सैनिकों को बर्फिस्तान में दफ्न कर दिया. जश्न-ए-आजादी के मौके पर आज हम आपको दुनिया के सबसे ऊंचे पहाड़ पर हुई उस जंग की कहानी बताएंगे जिसने पाकिस्तान का हौसला पस्त कर दिया था.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
दुनिया के सबसे ऊंचे सैनिक पोस्ट पर बुलंद भारत की नजीर है जहां पर माइनस 70 डिग्री टेम्प्रेचर में इंसान का खून बर्फ बन जाता है. जहां जिंदगी और मौत के बीच पल-पल मुकाबला होता है. 22 हजार फीट ऊंचे पहाड़ पर सेना का ऐसा पराक्रम आपने नहीं देखा होगा.
 
आप जानकर हैरान होंगे कि जिस सियाचिन के चप्पे चप्पे पर आज हिंदुस्तान की सेना का पहरा है वहां तीन दशक पहले तक न तो कोई सेना थी और न ही सैन्य साजो सामान. 1984 में पाकिस्तान ने जब धोखे से सियाचिन को अपने कब्जे में लेने की कोशिश की तो हमारे बहादुर सैनिकों ने उन्हें धूल चटा दिया.
 
वीडियो में देखें पूरा शो