नई दिल्ली. इस बार रक्षाबंधन का त्योहार देश भर में 18 अगस्त को धूमधाम से मनाया जाएगा. बहन अपने भाई की कलाई पर प्यार से राखी बांधेगी, माथे पर चंदन लगाएगी और आरती उतारेगी, क्योंकि रक्षाबंधन भाई-बहनों के प्यार का प्रतीक है. इस भाई-बहन का त्यौहार भी कहा जाता है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
इस साल की राखी पर हम आपको ये बताएंगी की आपके भाई के लिए राशि के अनुसार कौन सी राखी सर्वश्रेष्ठ होगी, लेकिन इससे पहले आपको बताते चलें कि आखिर राखी का उदय कैसे हुआ. हिन्दू धर्म में किसी न किसी रूप में मौली बांधने की परंपरा सदियों से चली आ रही है इसे आप भलीभांति जानते हैं. मौली को रक्षासूत्र भी कहा जाता है. पुराने जमाने में ऋषि-मुनी और ब्राह्मण इन्हीं रक्षासूत्र को लोगो की कलाईयों पर बांधते जो धीरे-धीरे राखी के रूप में परिवर्तित हो गया.
 
 
राशि के अनुसार ऐसे बांधे राखी
यदि आपके भाई की राशि मेष है तो आप उसे लाल, गुलाबी या पीली राखी बांध सकती हैं. वहीं वृष राशि के लिए श्वेत, नीली, रेशमी या चाँदी की समान चमकने वाली, मिथुन के लिए गुलाबी, नीली तथा हरी रंग की राखी, कर्क के लिए पीली, श्वेत या रेशमी राखी, सिंह के लिए लाल, गुलाबी या पीले रंग की राखी, कन्या के लिए श्वेत, हरी या गुलाबी रंग की राखी, तुला के लिए श्वेत, नीली या चमकीले रंग की राखी, वृश्चिक के लिए सुर्ख़-लाल, गुलाबी या पीली रंग की राखी, धनु के लिए लाल, पीली या गुलाबी राखी, मकर के लिए नीली या चमकीली श्वेत रंग की राखी, कुम्भ के लिए श्वेत तथा नीले रंग की राखी और मीन राशि वाले भाई को पीले और गुलाबी रंग की राखी बांध सकती हैं.