मुंबई. उपदेशक जाकिर नाइक के बैंक अकाउंट्स में पिछले तीन सालों में तीन अलग- अलग देशों से 60 करोड़ रुपये आए हैं. मुंबई पुलिस की जांच में ये पता चला है कि नाइक के परिवार के सदस्यों से जुड़े पांच बैंक खातों में यह रकम जमा की गई.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
अंग्रजी अखबार ‘द टाइम्स ऑफ इंडिया’ के अनुसार एक अधिकारी ने बताया, ‘हम अभी तक यह नहीं पता लगा पाए हैं कि ये रकम किस मकसद से जमा की गई है. हमने जांच की और इस लेन-देन का पता लगाया.’ अधिकारी ने साफ किया कि ये बैंक खाते नाईक के एनजीओ से जुड़े नहीं हैं बल्कि उसके अपने हैं. हालांकि इस सिलसिले में आईआरएफ के दूसरे अधिकारियों से अभी तक पूछताछ नहीं की गई है.
 
हालांकि जाकिर नाईक के एक सहयोगी ने दावा किया है कि कोई भी गैर-कानूनी लेन-देन हमने नहीं किया है. सारे पैसे बैंक खातों में आए हैं और उसकी सारी डिटेल मौजूद है. इंकम टैक्स डिपार्टमेंट से हमने 2015 तक के सारे आईआरएफ रिकार्डस क्लीयर करा रखे हैं. 
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
एक पुलिस अधिकारी के अनुसार, हमने इनकम टैक्स विभाग से इन कंपनियों का डीटेल मांगा है. हम पता कर रहे हैं कि इन कंपनियों को फंडिंग कहां से होती थी. क्या धर्म परिवर्तन के लिए फाइनेंस इन्हीं कंपनियों से होता था. पूरी जानकारी मिलने के बाद जाकिर के परिवार के लोगों से पुलिस पूछताछ करेगी.