मुंबई. किडनी रैकेट चलाने के आरोप में मुंबई के मशहूर हीरानंदानी हॉस्पिटल के 5 डॉक्टर, सीईओ और मेडिकल डायरेक्टर को गिरफ्तार किया गया है. रैकेट में शामिल कुल 14 लोग गिरफ्तार किए गए हैं. बताया जा रहा है कि फर्जी डाक्यूमेंट्स के आधार पर नकली रिश्तेदार बनाकर किडनी की खरीद-फरोख्त होती थी. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
बताया जा रहा है कि किडनी रैकेट का सरगना एक किडनी ट्रांसप्लांट के बदले में 25 से 30 लाख रुपए लेता था. किडनी देने वाले को कुछ हजार रुपए देकर ही चुप करा दिया जाता था. एक किडनी डोनर ने एनजीओ के साथ पुलिस को इसकी जानकारी दी. इसके बाद, पुलिस ने रेड की. रेड के दौरान एक मामले में डॉक्टर्स को रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
मुख्य आरोपी बिजेंद्र बिसेन 2007 में भी इसी मामले में गिरफ्तार किया गया था. वही, इस रैकेट का सरगना है. छापे में पता चला था कि जिस महिला को मरीज की पत्नी बताकर अस्पताल में भर्ती करवाया गया था वह उसकी पत्नी नहीं थी। इसी, महिला को डोनर बताया गया था. बताया जाता है कि डोनर महिला ने ही पुलिस और एनजीओ को रैकेट की जानकारी दी थी. उसने पुलिस को बताया कि किडनी के बदले उसे बहुत कम पैसे दिए गए हैं.