नई दिल्ली. सावन का महीना यानि भगवान शंकर का महीना. चारों तरफ सिर्फ बम बम भोले और हर हर महादेव की गूंज के साथ कांवड़ियों का उल्लास और उत्साह. शिव भक्ति की एक अविरल धारा. 

इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर

यूं तो पुराणों में भगवान शंकर की पूजा के लिए सोमवार का दिन निर्धारित किया गया है. लेकिन पौराणिक मान्यताओं में भगवान शंकर की पूजा के लिए सर्वश्रेष्ठ दिन महाशिवरात्री, उसके बाद सावन के महीने में आनेवाला प्रत्येक सोमवार, फिर हर महीने आनेवाले शिवरात्री और सोमवार का महत्व होता है. 
 
सावन का महीना भगवान शंकर का प्रिय महीना होने की वजह से इस महीने में भक्तों पर अतिशय कृपा बरसती है. माना जाता है कि इस महीने में व्रत- उपवास और पूजा- पाठ करने से भक्तों को विशेष लाभ मिलता है. इसलिए ही सावन के हर सोमवार देशभर के मंदिरों में श्रद्धालुओं का तांता लगा रहता है. 

Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter

आज सावन का तीसरा सोमवार है. आज शिव की पूजा करने से कठिन काम पूरे होंगे.
 
आइए हम बताते हैं भगवान शंकर को खुश करने के तरीके.
-21 बेल के पत्तों पर चदंन से ओम नम: शिवाय लिखकर शिवलिंग पर चढ़ाएं. 
– अगर घर में किसी प्रकार की परेशानी है तो सावन में रोज सुबह घर में गोमूत्र का छिड़काव करने के साथ गुग्गुल धूप भी जलाएं.
-यदि विवाह में अड़चन आ रही है तो दूर करने के लिए सावन में रोज शिवलिंग पर केसर दूध चढ़ाएं. विवाह का योग जल्दी बनेगा.