पटना. शराबबंदी और शराबबंदी के कड़े कानून को लेकर चर्चा में चल रहे बिहार के कटिहार जिले में एक थानेदार ने ही इतना ज्यादा शराब पी ली कि वर्दी तक का लिहाज भूल गया. नशे में टुन्न थानेदार ने एक महिला को छेड़ा तो जनता ने पहले उनको धो दिया और उसके बाद जूते-चप्पल की माला पहनाकर जुलूस निकाल दिया.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
खबर कटिहार जिले के थानेदार सुनील सिंह के बारे में है. बताया जाता है कि अपने इलाके में कानून कायम रखने के लिए तैनात थानेदार साहब ने राज्य की शराबबंदी कानून को तोड़ते हुए पहले तो जमकर शराब पी ली और पूरी तरह मदहोश हो गए. 
 
 
मदहोशी में ही थानेदार और शराब गाड़ी में रखकर बाहर निकले और रास्ते में एक शिक्षक की पत्नी को छेड़ने लगे. आबरू पर खतरा देख महिला ने शोर मचाया तो आस-पास के लोग जुटे और थानेदार साहब को गाड़ी से उतार कर कायदे से धो दिया. थानेदार को जूते और चप्पल की माला भी पहना दी गई.
 
 
इसी बीच किसी ने जिले के एसपी को मामले की खबर दी जो मौके पर पहुंच गए और उग्र भीड़ के हाथों से थानेदार को सुरक्षित निकाला नहीं तो लोगों का गुस्सा ऐसा था कि थानेदार साहब की जान भी जा सकती थी.
 
 
पुलिस ने अपने थानेदार को शराबबंदी कानून तोड़ने, छेड़खानी जैसे सेक्शन के तहत केस दर्ज करके गिरफ्तार कर लिया है.