मेरठ. हरिद्वार से जल लाने वाले कांवडि़ए गोल्‍डन बाबा आजकल सोना पहनने को लेकर सुर्खियों में छाए हुए हैं. ये गोल्डन बाबा साढ़े तेरह किलो सोना पहनकर कांवड़ यात्रा कर रहे हैं. करीब चार करोड़ के कीमती आभूषण पहन कर कांवड़ ला रहे बाबा की सुरक्षा में 30 निजी सुरक्षा कर्मी हैं. इनके साथ 350 कांवडिय़ों का दल भी है. इसके अलावा बाबा 27 लाख रुपए की हीरे की घड़ी भी पहनते हैं जो कि खासतौर पर बनाई गई है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
गोल्डन बाबा बुधवार को मेरठ पहुंचे. उनके बेड़े में एक मिनी ट्रक है जिसके पीछे गाडिय़ों में करीब 200 अनुयाई साथ चलते हैं. दिल्ली में कारोबारी रहे बाबा हर साल श्रावण के महीने में कांवड़ यात्रा पर जरूर जाते हैं. वो अभी तक 24 बार कांवड़ ला चुके हैं. गोल्डन बाबा ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि कांवड़ यात्रा का राष्ट्रीयकरण हो रहा है. इसी वजह से मैं गोल्डन पहन कर यात्रा में निकला हूं. ताकि अधिक से अधिक लोग यात्रा से जुड़े. उनकी इच्छा है जन जन तक बम बम बोले का जयकारा पहुंचे.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
बाबा कहते हैं यात्रा में बजने वाले देश भक्ति गीतों के साथ 90 प्रतिशत कांवड़ों पर लगा तिरंगा इसका प्रतीक है. शिव की आराधना के साथ देशभक्ति का जज्बा बढ़ता जा रहा है, यह अच्छा संकेत है. हरिद्वार में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने बाबा का फूल माला पहनाकर स्वागत किया था.