सूरत. गुजरात में दलितों के साथ हो रहे उत्पीड़न का एक और मामला सामने आया है. रिपोर्ट्स के मुताबिक मोटीवेट नायका वार्ड में दारोगा की पिटाई से एक दलित युवक मौत हो गई है. इस बीच भी़ड़ का गुस्सा इस कदर फूटा कि उन्होंने दारोगा को घेर लिया और उसके साथ मारपीट की.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
खबर है कि 25 साल के महेंद्र गमन की दारोगा के थप्पड़ की वजह से मौत हुई है. डिलीवरी का काम करने वाला महेंद्र रविवार की शाम शराब पीने गया था इस बीच दारोगा वहां अपनी टीम के साथ पहुंच गया. दारोगा ने महेंद्र को इतनी जोर से थप्पड़ मारा की वह जमीन पर गिर पड़ा और उसकी मौत हो गई.
 
 
परिजनों का आरोप पुलिस अपने स्टॉफ के पक्ष में
मृतक के परिजनों का आरोप है कि पीएसआई के स्टॉफ से जुड़े होने की वजह से उसपर कार्रवाई नहीं की जा रही है. उन्होंने कहा कि जब तक पीएसआई के खिलाफ मामला दर्ज नहीं होता और उसे सस्पेंड नहीं किया जाता वे शव को अपने कब्जे में नहीं लेंगे.