पटना. बिहार सरकार राज्य के हर जिले में एक मॉडल मदरसा बनाएगी. जबकि सीमांचल के इलाके में पांच मॉडल मदरसे बनाये जाएंगे. ये जानकारी राज्य के शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी ने मदरसा, संस्कृत शिक्षा बोर्ड और ए एन सिन्हा इन्स्टीच्यूट की समीक्षा बैठक के दौरान लिया. शिक्षा मंत्री ने राज्य के 2800 मदरसों में से 1128 में साइंस और गणित की पढ़ाई एक महीने में शुरू करने का निर्देश दिया. बैठक के दौरान उन्होंने मदरसों को कम्प्यूटराइज करने भी निर्देश दिया.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
संस्कृत शिक्षा बोर्ड की समीक्षा करते हुए शिक्षा मंत्री ने महिषि स्थित संस्कृत स्कूल को मॉडल स्कूल के रूप में विकसित करने का फैसला लिया. बैठक के दौरान मंत्री ने पाया कि कई संस्कृत स्कूलों में जितने छात्र हैं उतने ही शिक्षक भी. ऐसे में मंत्री ने ऐसे स्कूलों में छात्रों की संख्या बढ़ाने नहीं तो उन्हें बंद करने की चेतावनी दी.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
मंत्री ने पटना के एएन सिन्हा इंस्टीच्यूट की भी समीक्षा की जिसमें रजिस्ट्रार और एडमिनिस्ट्रेटर की बहाली करने का भी निर्देश उन्हें दिया. मंत्री खुद इंस्टीच्यूट के अध्यक्ष भी हैं. मंत्री ने रिसर्च कार्य में भी गति लाने का निर्देश दिया