लंदन. एक नई स्टडी में यह बात सामने आई है कि लड़कियां कम से कम एक दिन में 48 मिनट से लेकर सप्ताह में पांच घंटे, 36 मिनट तक का समय महज सेल्फी लेने में गुजारती हैं. दरअसल इतना समय लड़कियों को सेल्फी के लिए सही मेकअप, लाइट और सही एंगल बनाने के लिए लगता है. इस सर्वे में हर 10 में से एक लड़की अपने बाथरुम, कार या अपने ऑफिस में ली गई कम से कम 150 सेल्फी अपने कंप्यूटर और उतनी ही अपने स्माटफोन में रखते हुए पाई गई. सर्वे में 16 से 25 साल की उम्र की 2000 युवतियों को शामिल किया गया.

इनमें से 28 फीसदी लड़कियों ने बताया कि वे सप्ताह में कम से कम एक बार अपनी तस्वीरें खींचती हैं. आधे से अधिक लड़कियों  ने स्वीकार किया कि जब वे अपने को लेकर अच्छा महसूस नहीं करतीं, तब आकर्षक सेल्फी लेने से उनका मिजाज अच्छा होता है. लगभग 22 फीसदी महिलाओं ने कहा कि सोशल मीडिया में उनकी तस्वीरों को ‘लाइक’ मिलने से उनका आत्मविश्वास बढ़ता है और यही उनके सेल्फी लेने का मुख्य कारण है.

-IANS