पुणे. पुणे में अपनी गोल्ड शर्ट की वजह से सुर्खियों में आए ‘गोल्डमैन’ दत्तात्रे फुगे की पुणे में अज्ञात लोगों ने पत्थर मार-मारकर  हत्या कर दी. पुलिस ने बताया कि फुगे का चिटफंट का बिजनेस था, जिसके जरिए वह निवेशकों से पैसा जुटाते थे. पुलिस को शक है कि उनका संबंध चिटफंड घोटाले से हो सकता है. फुगे राजनीति में भी आगे बढ़ रहे थे. कुछ निवेशकों ने उनकी कंपनी की अनियमित्ताओं के बारे में शिकायतें की थीं. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
सूत्रों के अनुसार उनकी हत्या के तार चिटफंड कंपनी से जुड़े हो सकते हैं. उनकी पत्नी सीमा पिंपरी चिंचवाड़ म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन में एनसीपी कॉर्पोरेटर थी. पत्नी सीमा ने बताया कि गुरुवार रात कुछ लोग उनके घर आए पति फुगे को साथ चलने को कहा. उन्होंने बताया कि वे लोग फुगे को दिघी के भारतमाता नगर ले गए और पत्थरों और धारदार हथियार से मौत के घाट उतार दिया.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
मामले की जांच कर रहे पुलिस अधिकारियों के मुताबिक, हत्या के पीछे पैसों का लेन-देन हो सकता है. तीन साल पहले दत्तात्रे अपनी साढ़े तीन किलो की सोने की बनी शर्ट की वजह से चर्चा में आए थे. उस समय उन्होंने बताया था कि लोगों का आकर्षण हासिल करने के लिए शर्ट बनवाई थी. शर्ट की वजह से लोग उन्हें ‘गोल्डमैन’ कहते थे.