दरभंगा. बिहार टॉपर्स का मामला अभी उलझा ही नहीं कि वहां की शिक्षा व्यवस्था का एक और सच सामने आया है. इंडिया न्यूज ने दरभंगा के एक स्कूल का जायजा लिया, जिसमें यह सच्चाई सामने आई.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
सबसे बड़ी बात यह है कि इस स्कूल में जहां 150 बच्चों को पढ़ाने के लिए मात्र 1 टीचर हैं और उनकी ये हालत यह है कि उन्हें देश के राष्ट्रपति तक का नाम नहीं मालूम है. ये हाल किसी एक स्कूल का नहीं, बल्कि जिले के कई स्कूलों के टीचरों की यही हालत देखने को मिली है.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter