नई दिल्ली. छह साल की एक बच्ची के पिता ने हौज खास पुलिस से संपर्क कर आरोप लगाया कि एम्स के एक डॉक्टर ने उसकी बेटी की सर्जरी के दौरान दोनों किडनी निकाल ली हैं. एम्स ने आरोपों के मामले में जांच करने के लिए वरिष्ठ प्रोफेसरों की उच्चाधिकार प्राप्त कमेटी का गठन किया है.

एम्स के एक वरिष्ठ डॉक्टर ने कहा, ‘रोगी के पिता के आरोप गंभीर हैं. मामले में जांच के लिए और मुद्दों के स्पष्टीकरण के लिए वरिष्ठ प्रोफेसरों की एक उच्चाधिकार प्राप्त समिति बनाई गई है.’ उन्होंने कहा, ‘समिति की बैठक 20 मई को हुई थी और इस हफ्ते फिर से बैठक होगी और फिर एम्स प्रशासन को रिपोर्ट सौंपी जाएगी.’

उत्तर प्रदेश के बरेली के रहने वाले पवन कुमार पिछले साल अपनी बेटी के इलाज के लिए एम्स आए थे. उनकी बेटी की बांयीं किडनी में कुछ परेशानी थी. एम्स की पिछले साल आठ दिसंबर की पहली जांच रिपोर्ट के अनुसार बच्ची की दांयीं किडनी सही हालत में थी. कुमार ने कहा कि मामले को देख रहे बाल रोग विभाग के एक वरिष्ठ सर्जन ने परिवार से कहा कि किडनी निकालनी होगी. डॉक्टर ने 14 मार्च को सर्जरी की, जिस दौरान रोगी की एक किडनी निकाल ली गई.

उन्होंने आरोप लगाया कि कुछ दिन बाद बच्ची को काफी दर्द की शिकायत हुई. एक सीटी स्कैन कराया गया और जांच रिपोर्ट में कोई किडनी नहीं दिखाई दी. पिता ने कहा, ‘मैंने तब डॉक्टर से पूछा जिन्होंने मेरे सवाल का सही से जवाब नहीं दिया. मैंने एम्स प्रशासन से बात करने की कोशिश की, जिसमें सफलता नहीं मिलने पर हौज खास पुलिस से संपर्क साधा.’ पिता के अनुसार उनकी बेटी पिछले साल 14 मार्च से डायलिसिस पर है और एम्स में भर्ती है.

IANS