सतना. मध्य प्रदेश के सतना में टॉमस नदी में भारी बारिश के कारण बाढ़ आ गई है. नदी में आए ऊफान की वजह से लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. लगातार बारिश की वजह से जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है. बाढ़ में फंसे लोगों के रेस्क्यू ऑपरेशन के लिए सेना की मदद ली गई.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
नदी में आए उफान में करीब पांच सौ लोग फंस गए थे, जिनको बचाने के लिए सेना की दो टुकड़ियां बुलाई गई थीं. सेना के 200 जवानों ने घंटों मशक्कत के बाद बाढ़ में फंसे लोगों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया. बता दें कि बाढ़ की वजह से लगभग सौ मकान बह चुके हैं.
 
रायसेन में बीना नदी का जलस्तर बढ़ा
 
मध्य प्रदेश के रायसेन में भारी बारिश की वजह से बीना नदी का जलस्तर भी बढ़ गया है. नदी में भोपाल-सागर मार्ग पर बना पुल भी पानी में डूब चुका है, जिसकी वजह से यह रास्ता बंद हो गया है. और 50 से 60 गांवों का संपर्क भी टूट गया है. 
 
लोक निर्माण मंत्री की कार उफनते नाले में फंसी
 
रायसेन में हो रही बारिश की वजह से सूबे के लोक निर्माण मंत्री ठाकुर रामपाल सिंह की कार उफनते नाले में फंस गई थी. जिसे नगर पालिका और बीजेपी कार्यकर्ताओं ने कड़ी मशक्कत के बाद कार को नाले में से निकाला.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
श्योपुर में पार्वती नदी उफान पर
 
श्योपुर में भी भारी बारिश की वजह से पार्वती नदी का जलस्तर बढ़ गया है. जिससे श्योपुर-कोटा मार्ग पर बना पुल डूब गया और रास्ता बंद हो गया है. जिसके चलते लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. कोटा जाने वाला रास्ता बंद हो गया है.