सीवान. बिहार के सीवान और समस्तीपुर जिले के दो अलग-अलग मंदिरों में पिछले 12 घंटे के दौरान धावा बोलकर 10 अष्टधातु की बनी मूर्तियां चुरा लीं. समस्तीपुर के रोसड़ा थाना इलाके के मिर्जापुर गांव स्थित प्राचीन ठाकुरबाड़ी के मुख्य दरवाजे में लगे ताले तोड़कर चोरों ने भगवान राम, भगवती सीता, बालाजी और लक्ष्मीनारायण की अष्टधातु निर्मित चार मूर्तियां चुरा लीं.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
रोसड़ा के थाना प्रभारी रजनीश कुमार ने बताया कि शुक्रवार की रात मंदिर के महंत विश्वनाथ दास मंदिर का पट बंद कर अपने कमरे में सोने चले गए थे. शनिवार सुबह जब उन्होंने मंदिर का दरवाजा खोला, तो मूर्तियां गायब थीं. थाना प्रभारी ने बताया कि महंत दास के बयान के आधार पर रोसड़ा थाना में मूर्ति चोरी की एफआईआर दर्ज कर ली गई है और पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है.
 
सीवान में भी अष्टधातु की मूर्तियां चोरी
इधर, सीवान जिले के गोरियाकोठी थाना इलाके के राम-जानकी मंदिर से देर रात अष्टधातु की छह मूर्तियां चोरी हो गईं. पुलिस के अनुसार, चौनपुर पिपरा मठिया गांव स्थित प्राचीन राम-जानकी मंदिर का ताला तोड़कर चोरों ने वहां स्थापित करीब 200 साल पुरानी भगवान राम, सीता और लक्ष्मण की मूर्तियों समेत छह मूर्तियां चुराकर फरार हो गए.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
गोरियाकोठी थाना के एक पुलिस अधिकारी ने  बताया कि मंदिर में रात को कोई नहीं था. सुबह जब मंदिर के पुजारी पहुंचे तो मंदिर का ताला टूटा हुआ था और मूर्तियां गायब थीं. तत्काल उन्होंने इसकी सूचना पुलिस को दी. पुलिस मौके पर पहुंचकर मामले की छानबीन कर रही है.चोरी हुई मूर्तियों की कीमत अंतर्राष्ट्रीय बाजार में लाखों रुपये बताई जा रही हैं.