भोपाल. मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने मंत्रिमंडल का विस्तार किया. राज्यपाल रामनरेश यादव ने नौ मंत्रियों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई. इनमें चार कैबिनेट और पांच राज्यमंत्री हैं. वहीं दो उम्रदराज मंत्रियों को अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
राजभवन में आयोजित समारोह में राज्यपाल यादव ने कैबिनेट मंत्री के रूप में ओमप्रकाश धुर्वे, अर्चना चिटनीस, रुस्तम सिंह व जयभान सिंह पवैया को शपथ दिलाई. इसके अलावा विश्वास सारंग, संजय पाठक, ललिता यादव, हर्ष सिंह, सूर्यप्रकाश मीणा को राज्यमंत्री के पद की शपथ दिलाई गई.
 
राज्य मंत्रिमंडल में नौ नए सदस्यों के शामिल होने से मंत्रियों की संख्या बढ़कर 31 (मुख्यमंत्री के अतिरिक्त) सदस्य हो गए. इसमें 22 कैबिनेट और नौ राज्यमंत्री हैं. शपथ ग्रहण समारोह में मुख्यमंत्री शिवराज सहित उनके मंत्रिमंडल के अन्य सहयोगी और पार्टी के प्रदेश प्रभारी विनय सहस्रबुद्धे, प्रदेशाध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान भी मौजूद थे.
 
शिवराज सिंह चौहान के तीसरी बार मुख्यमंत्री बनने के बाद यह पहला मंत्रिमंडल विस्तार है. इस मंत्रिमंडल में किसे जगह दी जाए और किसकी छुट्टी की जाए, इसको लेकर पार्टी में दो दिन तक दिल्ली से लेकर भोपाल तक में मंथन चलता रहा.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
मुख्यमंत्री शिवराज स्वयं बुधवार को पार्टी के प्रदेश प्रभारी डॉ. विनय सहस्रबुद्धे के साथ पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, संगठन महामंत्री रामलाल आदि से मिले थे और संभावित मंत्रियों के नामों पर चर्चा चली. उसके बाद भी बात नहीं बनी तो गुरुवार की सुबह पार्टी के प्रदेश प्रभारी डॉ. विनय सहस्रबुद्धे और केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने भोपाल पहुंचकर मुख्यमंत्री से खास चर्चा की.