भोपाल. मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के कमला नेहरू गर्ल्स हॉस्टल में देसी कट्टे की नोक पर पूरे हॉस्टल के नाक में दम करने वाली दो लेडी डॉन की दबंगई का मामला सामने आया है. दरअसल, इस गर्ल्स हॉस्टल में लेडी डॉन के नाम से मशहूर दो बहनें देसी कट्टे की नोक पर बाकी लड़कियों से अपनी मनमानी करवाती हैं. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
हॉस्टल की लड़कियों ने वुमन कमीशन की प्रेसिडेंट लता वानखेड़े से इस बात की शिकायत की, जिसके बाद वह यहां पहुंचीं. फिलहाल दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया है. 
 
बता दें कि दोनों आरोपी बहनें सीमा शाक्य, प्रीति शाक्य प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के नाम पर 8 साल से सरकारी हॉस्टल में रह रही हैं. दोनों ने एक कमरे पर कब्जा करके रखा है.
 
सबके सामने फाड़ देती थी कपड़े
 
हॉस्टल में रहने वाली लड़कियों ने बताया कि यहां दो सीनियर लड़कियों का दबदबा है. वे अपने पास कट्टा भी रखती हैं. जूनियर को उनका खाना बनाना पड़ता है. साफ-सफाई करवाती हैं. इतना ही नहीं मना करने पर मारपीट की जाती है. इसके बात उन्होंने बताया कि रात के वक्त लड़के आते हैं, लेकिन पूछने पर बताया जाता है कि वे लड़कियों के भाई हैं. ज्यादातर लड़कियों का हॉस्टल में कोई रिकॉर्ड नहीं है. 
 
लड़कियों ने बताया कि जूनियर्स के कपड़े सबके सामने फाड़ देती थी और न्यूड करके उलटी-सीधी हरकतें करवाती थी. हम लोगों को कोई बचाने नहीं आता था.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
पुलिस से की शिकायत
 
हॉस्टल में रहने वाली एक पीड़ित लड़की सृष्टि उइके ने पुलिस की निर्भया टीम को बताया कि 2011 में पॉलिटेक्निक की पढ़ाई के लिए भोपाल आई थी. तीन महीने पहले मुझसे खाना नहीं बनाने की बात पर मारपीट शुरू कर दी. लातों से मारा. सब देखते रहे. वार्डन से गुहार लगाई. लेकिन किसी ने मेरा साथ नहीं दिया. सबके सामने मेरे कपड़े फाड़े गए. मैं चीखती रही. आए दिन दोनों मर्डर करने की धमकी देती हैं.