अगरतला. सीमा सुरक्षा बल ने बांग्लादेश के करीब 250 नागरिकों की त्रिपुरा सीमा से अवैध रूप से भारत में घुसने की कोशिश को नाकाम कर दिया है. खोवाई जिला पुलिस प्रमुख जयंत चक्रवर्ती ने बताया कि इनमें महिलाओं और बच्चों की संख्या अधिक थी.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
बांग्लादेश फॉरेस्ट गार्ड्स ने चुनारघाट के जंगल की भूमि पर बने इन लोगों के घरों को ढहा कर उन्हें बेदखल कर दिया था. चुनारघाट पूर्वी बांग्लादेश स्थित हबीबगंज जिले में आता है. हिंदू आदिवासी समुदाय से संबंधित ये लोग भारतीय सीमा के पास शरण लिए हुए थे.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
पुलिस अधिकारियों ने बताया कि सीमा पर बाड़ लगाने और बीएसएफ जवानों की सतर्कता के कारण बांग्लादेशी नागरिक त्रिपुरा के चंपाहोवार गांव में प्रवेश नहीं कर सके. यह गांव अगरतला से 100 किमी पश्चिम स्थित खोवाई जिले में है. बीएसएफ सूत्रों ने बताया कि वे इस मामले से बॉर्डर गार्ड्स बांग्लादेश (बीजीबी) को अवगत कराएंगे. दोनों पक्षों के वरिष्ठ अधिकारियों के बीच होने वाली फ्लैग मीटिंग में भी आदिवासियों को वापस ले जाने पर चर्चा होगी.