चंडीगढ़. पंजाब के कुछ कॉलेजों में एडमिशन के पहले डोप टेस्ट करवाने का मामला सामने आया है. पटियाला के महिंद्रा कॉलेज में एडमिशन के लिए पहुंचे छात्रों को मुहिम के तहत पहले डोप टेस्ट करवाने के लिए कहा गया है. इस मुहिम के पक्ष में खुद कैबिनेट मंत्री सुरजीत सिंह रखड़ा खड़े दिखाई दिए. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
नशे के खिलाफ पंजाब सरकार राज्य के सभी सरकारी कॉलेजों में स्टेट लेवल पर एडमिशन के पहले डोप टेस्ट करवाने की मुहिम शुरू करने जा रही है. इसके लिए सेहत विभाग की मदद भी ली जाएगी. इस प्रस्ताव का मकसद नशा करने वालों की पहचान करके सेहत विभाग के जरिए उनका इलाज करवाना है.
 
आशंका जताई जा रही है कि टीनएजर की ओर से कई तरह के नशे किए जा रहे हैं. इस सच्चाई का पता लगाने के सरकार डोप टेस्ट का सहारा ले रही है.
 
पहले इस पहल में राज्य के सरकारी कॉलेजों को शामिल किया जाएगा, वहीं राज्य में प्राइवेट एडेड 136 कॉलेज हैं जिनमें लगभग 1.88 लाख स्टूडेंट पढ़ रहे हैं, इन कॉलेजों को दूसरे चरण में इस डोप टेस्ट योजना में शामिल करने की प्लानिंग है.
 
stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter