नई दिल्ली. मोदी सरकार ने छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दरों में कटौती करने से इनकार कर दिया है. एनएससी और पीपीएफ पर ब्याज दर 8.1 तय कर दिया गया है. जबकि सुकन्या समृद्धि योजना पर 8.6 फीसदी की दर से ब्याज मिलता रहेगा.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
बचत योजनाओं में कितना मिलेगा ब्याज?
सरकार ने ब्याज की जो नई दर तय की है उसके मुताबिक नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट में  8.1 फीसदी का ब्याज मिलेगा और 5 साल के लिए मासिक बचत योजना (एमआईएस) में 7.8 फीसदी ब्याज मिलेगा.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
सुकन्या समृद्धि खाता 8.6 फीसदी का ब्याज मिलेगा और 5 साल के लिए सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम में 8.6 फीसदी का ब्याज मिलेगा. पब्लिक प्रोविडेंट फंड (पीपीएफ) 8.1 फीसदी का ब्याज देगा और किसान विकास पत्र 7.8 फीसदी की दर का ब्याज देगा.