बैंगलुरु. भले ही आज डिजिटल इंडिया की बात हो रही है, लेकिन आज भी भारत में अंधविश्वास की कोई कमी नहीं है. लोग अंधविश्वास में ऐसे-ऐसे काम कर रहे हैं, जिसे सुनकर ही आपके रोंगटे खड़े हो जाएं. ताजा मामला कर्नाटक का है, यहां इंद्रदेव को खुश करने के लिए एक छोटे-से बच्चे को नंगा करके पूरे गांव में घूमाया गया.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
इस बच्चे के लिए शरीर पर कपड़े के अलावा सबकुछ था. सिर पर गणेश भगवान की मूर्ति, गले में फूल का माला, माथे पर टिका भी लगाया गया था. यह सब इसलिए किया गया ताकि इंद्रदेव खुश होंगे और गांव में बारिश होगी. अंधविश्वास की हद तो तब हो गई, जब ढोल-नगाड़े के साथ बच्चे को खेत सहित पूरे गांव में ऐसी ही हालत में घूमाया गया.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
ऐसी है प्रथा
कर्नाटक के चित्रदुर्ग जिले के पंडारहल्ली गांव में यह प्रथा सदियों से चली आ रही है. परंपरा के मुताबिक सूखे की स्थिति में किशोरावस्था के बच्चों से ऐसी हालत में पूजा करवाई जाती है. उसके बाद बच्चे को नए कपड़े दिए जाते हैं.