लखनऊ. समाजवादी पार्टी ने भारतीय जनता पार्टी और बहुजन समाज पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा है कि बीजेपी और बसपा के बीच भाई बहन जैसा अटूट रिश्ता है. पार्टी ने कहा है कि बीजेपी और बसपा दोनों ही दलों का इरादा उत्तर प्रदेश को पिछड़ा प्रदेश बनाए रखने का है. यही कारण है कि वे यहां सामाजिक सौहार्द को बिगाड़ने में लगे हैं.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
पार्टी ने कहा कि बीजेपी अध्यक्ष यहां आकर समाजवादी पार्टी पर आकण्ठ भ्रष्टाचार में डूबे होने का आरोप लगाते हैं, लेकिन बीजेपी शासित राज्यों के भ्रष्टाचार की कहानियों से कौन अवगत नहीं है. समाजवादी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में समाजवादी सरकार के विकास कार्यो के शानदार रिकॉर्ड से बीजेपी और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के खेमों में घबराहट और बौखलाहट है. विधानसभा के अगामी चुनावों में उन्हें अपना कोई भविष्य नजर नहीं आ रहा है. ऐसे में वे अपने पुराने तौर-तरीकों अफवाहें फैलाने, चरित्रहनन और सांप्ररदायिकता का जहर फैलाने पर उतर आए हैं.
 
चौधरी ने कहा कि पिछले सालों में बीजेपी-संघ ने उत्तर प्रदेश में अशांति फैलाने के भरसक प्रयास किए थे. लेकिन, जनसहयोग न मिलने और प्रशासन की सख्ती के कारण वे अपने इरादो में सफल नही हो सके थे. चौधरी ने कहा कि बीजेपी प्रदेश में हो रहे विकास से जनता का ध्यान हटाने के लिए मथुरा और दादरी के मुद्दों को हवा देने में लगी है. इससे अराजकता फैलाने की मंशा साफ जाहिर होती है.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
सपा प्रवक्ता ने कहा कि साजिशकर्ताओं को याद रखना चाहिए कि प्रदेश में समाजवादी सरकार सांप्रदायिकता और पृथकतावादी प्रवृत्तियों को कतई बढ़ने नहीं देगी. वह इनसे सख्ती से निपटेगी, क्योंकि जनता के अमन चैन से खिलवाड़ करने की किसी को इजाजत नहीं दी जा सकती है. उन्होंने कहा कि सामाजिक सद्भाव को तोड़ने की गुजरात की कहानी उत्तर प्रदेश में नहीं दोहराई जा सकती है.