मथुरा. उत्तर प्रदेश के मथुरा हिंसा मामले में जांच टीम के सदस्य और बीजेपी सांसद राजेश दिवाकर ने मथुरा मामले पर उत्तर प्रदेश सरकार पर जोरदार हमला किया है. उन्होंने कहा कि जांच टीम को जवाहर पार्क में अंदर नहीं जाने दिया गया था, उसे बाहर ही रोक दिया गया था.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
इसके अलावा उन्होंने बताया कि जवाहर पार्क के अंदर पड़ी लाशों को भी जलाया जा रहा था. दिवाकर ने कहा कि सारे सबूत मिटाने के लिए जांच से पहले ही जवाहर पार्क में पड़ी लाशों को भी जला दिया गया था और जांच टीम को अंदर नहीं जाने दिया जा रहा था.
 
दरअसल बीजेपी ने मथुरा के जवाहरबाग कांड के लिए जांच दल गठित किया था, जिसमें चार सांसदों के साथ दो विधायक और पार्टी का एक और सदस्य शामिल हैं. 
 
बता दें कि जवाहर बाग में पिछले गुरुवार को हुई इस हिंसा में दो पुलिस अधिकारी सहित 29 लोगों की जान गई. जवाहर बाग में पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच हिंसक झड़प से निपटने में तालमेल की कमी दिखी और इसके चलते मथुरा के जिलाधिकारी राजेश कुमार को हटा दिया गया है.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter