नई दिल्ली. 1 जून के बितने के साथ ही दो जून की रोटी महंगी हो गई. जी हां, हम यह बात इसलिए कह रहे हैं, क्योंकि 2015 के बजट में सर्विस टैक्स को जहां 12.36% से 14% किया गया. उसमें नवंबर में 0.5% ‘स्वच्छ भारत सेस’ लगाया गया, जिसके बाद वह 14.5% हो गया और अब 0.5% ‘कृषि कल्याण सेस’ लगाकर इसे 15% कर दिया गया. इसके बाद  खाना-पीना, चलना-फिरना, मूवी देखना, सैलून और ब्यूटी पार्लर जाना तक महंगा हो गया है.
 

इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर

 
 
क्या-क्या हुआ महंगा?
इस सर्विस टैक्स बढ़ने से क्या-क्या चीजें महंगी हुई, इसपर एक नजर डालें तो हम सोच में डूब जाएंगे. सबसे पहले घर खरीदने की बात करें तो आपको यह सौदा महंगा पड़ेगा. यदि आप घर के लिए 20 लाख का लोन लेते हैं तो 90 हजार रुपये टैक्स देने होंगे. वहीं रेस्टुरेंट में 1 हजार के बिल पर आपको 60 रुपये का टैक्स देना होगा. ट्रांसपोर्टेशन में पहले जहां आप 10 हजार के खर्च पर 435 रुपये सर्विस टैक्स देते थे, वहीं अब आपको 450 रुपये चुकाने होंगे. पेट्रोल डीजल के अलावा बिना सब्सिडी वाली एलपीजी गैस के सिलिंडर के दाम में 21 रूपये की बढ़ोतरी हुई है, मतलब अब खाना बनाना भी मंहगा. अगर आप हवाई जहाज से सफर करते हैं तो आपके लिए भी बुरी खबर है. हवाई ईंधन यानी एटीएफ में 9% का इजाफा हो गया है.
 
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
इसके अलावा फिल्म देखना और ब्यूटी पार्लर जाना, रेल और हवाई जहाज में सफर करना, सभी तरह के बीमा का प्रीमियम, बैंक ड्राफ़्ट, मनी ट्रांसफ़र और एसएमएस अलर्ट जैसी सुविधाएं, मोबाइल, डीटीएच, बिजली और आपके पानी के बिल, माल ढुलाई, पंडाल और कैटरिंग जैसी तमाम सेवाएं महंगी हो गईं.