नई दिल्ली. हिंदुस्तान में बुलेट ट्रेन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ड्रीम प्रोजेक्ट है और इसके लिए ब्लू प्रिंट भी तैयार हो चुका है. सात साल बाद यानी 2023 तक बुलेट ट्रेन हिंदुस्तान में दौड़ने लगेगी. लेकिन ये बुलेट ट्रेन ज़मीन पर नहीं खंभों पर सफर तय करेगी.
 
जिस तरह दिल्ली में मेट्रो ट्रेन खंभों पर चलती है ठीक ऐसे ही बुलेट ट्रेन को दौड़ाने का प्लान तैयार हो चुका है. सबसे पहले बुलेट ट्रेन मुंबई-अहमदाबाद रुट पर चलने वाली है. साथ ही ये भी करीब करीब तय हो चुका है कि मुंबई से अहमदाबाद बुलेट ट्रेन पटरी पर नहीं खंभे पर दौड़ेगी. खंभे का मतलब एलिवेटेड कॉरिडोर पर रफ्तार से भागती नजर आएगी बुलेट.
 
जापान से लेकर चीन तक ये बुलेट ट्रेन की अलग अलग तस्वीरें हैं. बुलेट ट्रेन एलिवेटेड कॉरिडोर यानी सीमेंट और लोहे के खंभों पर बने पुल पर सरपट दौड़ती हैं. इंडिया न्यूज की खास पेशकश में देखिए जब जमीन से ऊपर जब बुलेट ट्रेन 300 किलोमीटर से भी ज्यादा की स्पीड में भागती है तो नजारा कैसा होता है.
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरा शो